जिला कलक्टर का पीए 1 लाख 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कलक्टर को किया एपीओ

Dec 10, 2020 - 02:51
Dec 10, 2020 - 02:56
जिला कलक्टर का पीए 1 लाख 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार कलक्टर को किया एपीओ

राजस्थान में 9 दिसंबर को मनाया जा रहा एंटी करप्शन डे उस वक्त करप्शन डे में तब्दील हो गया, जब बारां कलेक्टर के पीए और सवाई माधाेपुर में एसीबी के डीएसपी को एसीबी ने घूस लेते हुए गिरफ्तार किया। एसीबी की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए बारां के जिला कलक्टर के पीए को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि आरोपी ने पेट्रोल पम्प की एनओसी जारी करने के एवज में परिवादी से रिश्वत की मांग की थी।

जानकारी के अनुसार बुधवार को ताबड़तोड़ कार्रवाईयों को अंजाम देते हुए डीजी बीएल सोनी और एडीजी दिनेश एम एन के निर्देश पर एसीबी ने बारां के जिला कलक्टर इंद्र सिंह राव के पीए महावीर नागर को 1 लाख 40 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया। एसीबी की प्रारंभिक पूछताछ में पीए ने कबूला है कि रिश्वत की राशि में से एक लाख रुपए कलेक्टर के लिए और 40 हजार रुपए खुद के लिए वसूले थे। देर रात तक एसीबी के अधिकारी कलेक्टर से पूछताछ कर रहे थे। इधर, मामला सामने आने के बाद राज्य सरकार ने जिला कलेक्टर इंद्र सिंह राव काे एपीओ कर दिया।

जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव 31 साल के कार्यकाल में अब तक छह बार अलग-अलग कारणों से एपीओ किए जा चुके हैं। जबकि गंभीर आरोप के चलते एक बार उन्हें सस्पेंड भी किया जा चुका है। चार साल पहले ही उन्हें भारतीय प्रशासनिक सेवा में प्रमोट किया गया था। उसके तुरंत बाद उन्हें राजस्व मंडल में भाजपा सरकार ने लगा दिया था। लेकिन 2018 में सत्ता परिवर्तन के बाद कांग्रेस सरकार ने राव को बारां जिले में कलेक्टर लगाया।