शरद मेहरा ने कहा:मोबाइल लेने शिविर में आए लाभार्थियों को बिना स्मार्टफोन के नहीं लौटाएं

Sep 5, 2023 - 15:06
 0  3812
शरद मेहरा ने कहा:मोबाइल लेने शिविर में आए लाभार्थियों को बिना स्मार्टफोन के नहीं लौटाएं

जिला कलेक्टर शरद मेहरा की अध्यक्षता में राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के संबंध में शुक्रवार को समीक्षा बैठक आयोजित हुई। जिसमे जिला कलेक्टर मेहरा द्वारा इंदिरा गांधी स्मार्टफोन योजना, मुख्यमंत्री निशुल्क अन्नपूर्णा फूड पैकेट योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के पेंशनर्स का वार्षिक भौतिक सत्यापन, इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना, इंदिरा गांधी रसोई योजना, महंगाई राहत कैंप आदि योजनाओं की विस्तार से समीक्षा की गई।

जिला कलेक्टर शरद मेहरा ने इंदिरा गांधी स्मार्टफोन योजना के तहत जिले में संचालित शिविरों की प्रगति रिपोर्ट कि समीक्षा की एवं संबंधित अधिकारियों को लक्ष्यानुरूप कार्य नियमानुसार करने के लिए निर्देशित किया। जिला कलेक्टर मेहरा ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए की वह शिविर में आए लाभार्थियों को स्मार्टफोन के बिना वापस ना भेजें। उन्होंने शिविर के सुलभ संचालन के लिए कार्मिकों व अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए गए निर्देशों का पालन करें एवं बताए गए समय पर शिविर की शुरूआत करें। जिससे सुगमता के साथ शिविर का संचालन सुनिश्चित किया जा सके।

उन्होंने सामाजिक सुरक्षा पेंशन के संदर्भ में संबंधितों को निर्देश दिए कि वह सामाजिक सुरक्षा पेंशन के शेष पात्र पेंशनर्स का वार्षिक भौतिक सत्यापन जल्द ही निस्तारित किया जाना सुनिश्चित करें। महंगाई राहत कैंप के संबंध में जिला कलेक्टर मेहरा ने संबंधितों से कैंपों की प्रगति रिपोर्ट की समीक्षा की एवं कैंप में अधिकाधिक संख्या में लोग आ सके इसके लिए उचित स्थान चिन्हित करने के निर्देश दिए। उन्होंने पशुपालन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह जिले में पशु से संबंधित मुद्दों को ध्यान में लाए एवं राज्य सरकार द्वारा समय-समय पर दिए जाने वाले दिशा-निर्देशों की पालना करें तथा लाभार्थियों को सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं से अवगत कराने का कार्य करें।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर रणजीत सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गुमनाराम, उपखंड अधिकारी डॉ रवि गोयल, मुख्य शिक्षा अधिकारी नीलकमल गुर्जर, मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी अतुल कुमार चतुर्वेदी, जिला मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉ मान सिंह सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।