राजस्थान के ह्रदयांश को मिलेगी जिंदगी? 22 महीने से मासूम को 17 करोड़ रुपये के इंजेक्शन की जरूरत

राजस्थान के धौलपुर जिले के एसएचओ नरेश शर्मा के 22 महीने का बेटा ह्रदयांश गंभीर बीमारी से ग्रस्त है। बच्चे को लाइफ सेवर जोल्जेंस्मा इंजेक्शन की कीमत 17.5 करोड़ रुपए है। इस संबंध में जानकारी मिलने के बाद देशभर में हजारों हाथ मदद के लिए उठ गए हैं। पुलिसकर्मी की मदद के लिए कई आईपीएस ने मुहिम शुरू कर दी है।

Feb 29, 2024 - 21:49
राजस्थान के ह्रदयांश को मिलेगी जिंदगी? 22 महीने से मासूम को 17 करोड़ रुपये के इंजेक्शन की जरूरत

राजस्थान के धौलपुर जिले के मनिया थाने के एसएचओ नरेश शर्मा का बेटा गंभीर बीमारी से ग्रस्त है। 22 महीने के बच्चे ह्रदयांश को स्पाइनल मस्क्युलर एट्रोफी (SMA) नामक दुर्लभ बीमारी है। बच्चा अपने पैरों पर खड़ा नहीं हो सकता। उसके कमर के नीचे का हिस्सा बिल्कुल काम नहीं कर रहा है। इस गंभीर बीमारी से मुक्ति पाने के लिए डॉक्टरों ने लाइफ सेवर जोल्जेंस्मा नामक इंजेक्शन की जरूरत बताई है। इस इंजेक्शन की कीमत 17.5 करोड़ रुपए है।

रोते हुए मदद की गुहार लगाई बच्चे के माता पिता ने

22 महीने ह्रदयांश की जिंदगी बचाने के लिए 17.5 करोड़ रुपए के इंजेक्शन की जरूरत बताई गई तो माता पिता के पैरों तले से जमीन खिसक गई। पूरी जमीन जायदाद बिकने के बाद भी 17.5 करोड़ रुपए का इंतजाम नहीं हो सकता है। परेशान माता पिता ने रोते हुए लोगों से गुहार लगाई कि वे उनके बच्चे की जिंदगी बचाने में मदद करें। सोशल मीडिया के जरिए बच्चे के पिता सब इंस्पेक्टर नरेश शर्मा और उनकी पत्नी ने मदद की गुहार लगाई है। उन्होंने बच्चे की बीमारी से जुड़े तमाम दस्तावेज और डॉक्टरों की रिपोर्ट भी दिखाई है।

मदद के लिए उठे हजारों हाथ

सोशल मीडिया के फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर और यूट्यूब सहित अन्य प्लेटफार्म पर ह्रदयांश को बचाने की मुहिम चल पड़ी है। कई लोगों ने अलग अलग ग्रुप बनाकर ह्रदयांश और उनके माता पिता के बारे में पूरी जानकारी शेयर की है। साथ ही बच्चे के नाम से खोले गए बैंक अकाउंट नबर की डिटेल भी शेयर की है। सोशल मीडिया पर ह्रदयांश की बीमारी के बारे में जानकर उसकी मदद के लिए हजारों लोग आगे आए हैं।

डीजीपी ने भी की अपील, कई आईपीएस भी चला रहे मुहिम

पुलिस महानिदेशक यूआर साहू ने भी सब इंस्पेक्टर के बेटे के लिए अपील जारी की है। डीजीपी साहू ने पुलिस विभाग के सभी आईपीएस अधिकारियों और कर्मचारियों को एक पत्र जारी करके नरेश शर्मा के बेटे ह्रदयांश की जान बचाने के लिए सहयोग करने की अपील की है। कई आईपीएस अफसर भी ह्रदयांश की मदद के लिए मुहिम चला रहे हैं। कुछ आईपीएस अफसरों ने 51000 तो कुछ अफसरों ने 25-25 हजार रुपए की सहयोग राशि दी है। सोशल मीडिया पर बनाए गए ग्रुप में कई पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों ने हजारों रुपए ह्रदयांश के बैंक खाते में ट्रांसफर किए हैं। आमजन भी बढ़ चढ़कर ह्रदयांश की मदद कर रहे हैं।

दो महीने है ह्रदयांश के पास, आप भी कर सकते हैं मदद

दुर्लभ बीमारी से ग्रसित ह्रदयांश की उम्र 22 महीने की है। डॉक्टरों के मुताबिक 24 महीने की उम्र से पहले उसे लाइफ सेवर जोल्जेंस्मा इंजेक्शन लग जाना चाहिए। तभी उसकी जान बच सकेगी। कोई भी व्यक्ति अगर ह्रदयांश की जान बचाने के लिए मदद करना चाहे तो वे ह्रदयांश के बैंक अकाउंट में सहयोग राशि भेज सकते हैं। ह्रदयांश की बैंक खाते की डिटेल यहां भी उपलब्ध कराई जा रही है।

Bank Name - RBL Bank

Account No. - 2223330077641201

Account Name - Hridyansh

IFSC code - RATNOVAAPIS

For UPI Transaction - assist.hridyansh13@icici